Digital clock

Tuesday, 1 June 2010

कूल सेक्सी टाइम

पारा 45 डिग्री को छू रहा है और सुबह 7 बजे ही धूप खिल जाती है। पूरे दिन भयंकर गर्मी में समय बिताने के बाद रात में भी उमस और गर्मी सोने नहीं देती। देश में इस समय गर्मी का प्रकोप है और इसका सीधा असर अंतरंग संबंधों पर पड़ता है। लेकिन इन गर्मियों में भी सेक्स का आनंद उठाया जा सकता है। वैसे वैज्ञानिको की मानें तो गरमी के मौसम की हीट आपके मसल्स को रिलेक्स देती है, हीट आपकी स्किन में हरकतों को पैदा करने में सहायक होती है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि प्यार की जगह चिपचिपाहट का आनंद लेने लग जाएं।
इस मौसम का भी आप अपने स्टाइल में मजा लें सकते है। महिलाओं के लिए यह ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है जैसे कि आप अपने पार्टनर को उकसाने या मनाने की कवायद में हो तो बस कूल प्लेन टी-शर्ट या टॉप संग पानी में से नहाई हुई निकलकर कुछ मस्त अदाओं से रिझा सकती है।
इसके अलावा गरमी में लविंग सेक्स का मजा कुछ ऐसे भी लूट सकते है:
घर में स्पा
आप और आपकी पत्नी घर में स्पा का आनंद ले सकती हैं। इसके लिए किसी खास ट्रेनिंग, संसाधन और द्रव्यों की आवश्यकता नहीं। गर्मियों में थकान अधिक लगती है। इसलिए कुछ देर आराम करें और एक दूसरे की हल्की मसाज करें। इससे थकान दूर होगी और ये अंतरंग पल भी राहत देने का कार्य करेंगे।
सह स्नान
यदि सम्भव हो तो युगल एक साथ स्नान कर सकते हैं। गर्मी और उमस के बीच ठंडा पानी आप दोनों को एक दूसरे के करीब लाने का कार्य करेगा। यदि स्नानघर में बॉथटब या शॉवर हो तो कहना ही क्या।
बर्फबारी
रसोईघर को खेल का मैदान बना सकते हैं। रेफ्रिजरेटर में से आईसक्यूब निकाल कर बर्फबारी का आनंद लें। इसके लिए कुछ खास करने की आवश्यकता नहीं क्योंकि आप दोनों जानते हैं कि आपकी पसंद नापसंद क्या है। बस इतना ध्यान रखें यह सब उस समय ना हो जब आपकी पत्नी अध्यधिक व्यस्त हों, क्योंकि कोई महिला नहीं चाहेगी कि उसकी रसोई बिखरी हुई हो। यहां मूड बनते बनते बिगड़ भी सकता है। इसीलिए उनका मूड ना बिगड़े तो आप एंज्वॉय करने के लिए ही आईसक्यूब संग आईस-चिप किस का मजा लें सकते है। वो ऐसे कि एक आईसक्यूब को अपने मुंह में रखकर घोले, उसके बाद उस ठंडक से पार्टनर के होंठो पर ठंडी सी किस करें। इसे कहते है गरमी से सरदी का एहसास।
गर्म अहसास
कुछ युगलों को पसीना भी आकर्षित करता है। विशेष रूप से महिलाएं जिनेटिक तौर पर पुरूषों के पसीने के प्रति आकर्षित होती हैं। गर्मियों के दिन हों और यदि मूड बनाया जाए तो पसीने से क्या घबराना। अपने बेडरूम का तापमान ज्यादा ठंडा ना रखें, इसका कारण यह है कि शरीर से निकलने वाले पसीने में आपको एक-दूसरे की नेचुरल स्किन की खुशबू का एहसास होगा। इस तापमान में आप एक-दूसरे की फोरप्ले संग आनंद लें सकते है। इसी मूड के साथ आप पूरा एंज्वॉय करें। लेकिन तापमान को गरमागरम ही रहने दें। इसके बाद आप नहाने का मजा भी लें सकते है।
घूमने जाएं
घर से कहीं दूर ना जा सकें तो आसपास कहीं घूम कर आएं। इसके अलावा सम्भव हो तो शाम को टहलने निकल जाएं। टहलने के लिए निकलते समय थकान को बाधा ना बनने दें तो क्योंकि धीरे धीरे टहलने से थकान कम ही होती है। शाम के समय अमुमन ठंडी हवाएं चलने लगती है। उस समय का भरपुर लाभ उठाएं और अपने रोमांस को कम ना होने दें।

Wednesday, 12 May 2010


जो है समां, कल हो ना हो....

हाल ही में एक रिसर्च के तहत बात सामने आई है कि अभी लव कपल्स संबंध बनाने से महत्वपूर्ण किसिंग और हग करने को मानने लगे है। इसके पीछे खास है कि वो संबंधों में कंडोम का इस्तेमाल नहीं करना चाहते, इसीलिए वो फोर प्ले से पहले किसिंग व हग यानि कि गले लगकर पार्टनर संग सेक्स का पूरा मजा लेना चाहते है।
इसके अलावा अहम तो यह भी है कि इन खास पलों में कुछ गलतियों के कारण वक्त और मूड दोनों को खराब किया जा सकता है। जी हां, साथी के साथ मिले समय को पूरा मौज-मस्ती संग बिताया जाए तो जरूरी है कुछ ध्यान रखने जरूरी बातें, जिनपर अकसर हम ध्यान नहीं देते=
मोबाइल फोन पर बात
सोचिए जब आप अपने साथी के साथ प्रेम का आनंद ले रहे हों और फोन की घंटी बज जाए! कभी कभी कॉल इतना महत्वपूर्ण होता है कि उसे काटा भी नहीं जा सकता और बात करनी ही पड़ती है। लेकिन यह आप दोनों के मूड को बिगाडऩे में कोई कसर बाकी नहीं रखता। इसलिए जब आप अपने साथी के साथ हों तो मोबाइल फोन या तो स्विच ऑफ कर दें या फिर वोइसमेल चालू कर दें।
तेज संगीत
हो सकता है आपको संगीत पसंद हो, यह भी हो सकता है कि आपके साथी को भी संगीत पसंद हो, लेकिन प्यार भरे समय का आनंद उठाने से पहले तेज संगीत आप दोनों के मूड को खराब कर सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार महिलाओं को अंतरंग क्षणों का आनंद उठाने से पहले खुद को तैयार करने में समय लगता है और इस दौरान तेज संगीत इसमें बाधा ही उत्पन्न करता है। इसलिए अच्छा हो कि धीमा संगीत बजाएं अथवा तो आपस में ही बात करें।
हड़बड़ी
प्रेम में हडबडी के लिए कोई स्थान नहीं है। यह एक वैज्ञानिक सत्य है कि पुरूष महिलाओं की अपेक्षा अधिक तेजी से उत्तेजना प्राप्त करते हैं लेकिन अपनी भावनाओं पर काबू रखना प्रेम में अति आवश्यक होता है। शुरूआत में ही अत्यधिक उत्तेजना का प्रदर्शन आपकी साथी के मूड को खराब कर देगा और उन्हें लगेगा कि आपको सिर्फ सेक्स से मतलब है।
जबरदस्ती
यह बात पुरूषों के व्यवहार पर लागू होती है। चूंकि पुरूष अपेक्षाकृत अधिक तेजी से उत्तेजित होते हैं, यदि वे अपनी भावनाओं पर काबू ना रख पाएं तो लगभग जबरदस्ती करने लगते हैं, जो कि गलत है। यदि महिला साथी तैयार ना हों तो उनकी भावनाओं को समझकर शुभरात्रीÓ कहना सही रहेगा। क्योंकि जबरदस्ती से भरी गई हामी भविष्य के लिए कड़वाहट छोड़ जाती है।
बेवजह शर्म
यह बात महिलाओं पर अधिक लागू होती है। बेवजह की शर्म अंतरंग पलों को बिगाड़ सकती हैं,
इसलिए अपने साथी के साथ खुलकर पेश आएं और अपनी ईच्छाओं के बारे में बात कीजिए।
बातचीत
पार्टनर संग आपसी बातचीत होनी बेहद जरूरी है कि आज वो किस तरह से क्या करना चाहते या चाहती हैै । उससे आप उन पलों को यादगार बनाने में भी कामयाब हो सकेंगे।
सेक्स लाइफ के 18 सूत्र!
डांस करें - स्वयं डांस करें या पार्टनर के साथ। चाहे नाचना आता है या नहीं, पर नाचें जरूर। क्योंकि नाचना क्रिएट करता है सेक्स अपील।
वर्क आउट - डेली वर्क आउट से सेक्सी बॉडी बनती है। इससे ज्यादा देर सेक्स करने की शक्ति मिलती है। इससे शरीर लचीला हो जाता है और आप ऐसे आसनों का भी आनंद उठा सकती हैं जिनके बारे में सिर्फ ख्वाब देखती हैं।
म्यूजिक - हर प्रकार का म्यूजिक सेक्स की क्रिया में आनंददायक साबित होता है। सेक्स क्रिया के दौरान म्यूजिक की रिदिम हेल्प करती है उसे एंज्वॉय करने में। म्यूजिक से सेक्स के लिए मूड क्रिएट होता है। गानों के बोल भावनाओं में तूफान ला सकते हैं।
शेयर फैंटेसी - एक दूसरे को कम से कम अपनी एक फैंटेसी जरूर बताएं। यदि शेयर करने के बाद उसे एक्सपेरीमेंट कर सकें, तो इससे बेहतर कुछ नहीं।
संवाद - अपने पार्टनर को समझाएं कि आपको हर संभव सैक्सुअल प्लेजर दें। संवाद स्थापित कर निर्देश दें, बिना दिखाए या टच किए हुए। ये एक बेहतरीन एक्सरसाइज है ये जानने के लिए कि आपके कहने का क्या प्रभाव पड़ता है?
प्ले गेम्स - माहौल को हल्का बनाने के लिए सेक्स गेम्स खेलें। ऐसे गेम्स आसानी से गेम स्टोर्स पर ऑनलाइन उपलब्ध हैं। ये मस्ती भरे और उत्तेजक होने चाहिए। ऐसे गेम्स नई चीजें ट्राई करने की नर्वसनेस से छुटकारा दिलाते हैं। विभिन्न तरह के गेम्स खेलें।
लव नोट्स दें - लव नोट्स बहुत प्रेरक होते हैं। आपके पार्टनर ने आपके लिए कुछ लिखा है यही सोचकर आपको एक अलग से आनंद की अनुभूति होगी।
रोमांटिक मूवी देखें - अपने पार्टनर के साथ रोमांटिक मूवी देखें। यदि संबंध औपचारिक नहीं है, तो कोई सेक्सी फिल्म भी देख सकते हैं। उसके बाद हॉट सेक्स का लाभ उठाएं।
फ्रेश रहें - हाईजीन (साफ-सफाई) सेक्स का आनंद उठाने के लिए जरूरी है। बॉडी पर चुंबनों का लुत्फ उठाने के लिए अच्छी तरह स्नान कर लें। अन्यथा साथी को पसीने की बदबू आपको चूमने नहीं देगी। ब्रश करें। माउथवॉश से क्लीन करें। अपने पर्सनल पार्ट्स की सफाई अच्छे से करें। महकते साफ-सुथरे शरीर को चुंबन करने वाला बहुत पसंद करेगा।
सेक्सी कपड़े पहनें - मसालों और पसीने की बदबू देते कपड़े कतई न पहनें। सेक्सी नाईटी या नाइट सूट पहनें। कोशिश करें कि पति-पत्नी एक दूसरे की च्वाइस की नाइट ड्रेस खरीदें। इससे आप उन्हें पहले से भी ज्यादा सेक्सी नजर आएंगे।
सेंसुअल मसाज - उन्हें मूड में लाने के लिए मसाज करें। सबसे पहले बैक मसाज करें। फिर पैर और फिर सेंसिटिव पार्ट्स का मसाज करें। सेंसुअल खुशबूदार ऑयल का प्रयोग करें।
टर्न्स यू ऑन - अगर पार्टनर की कोई बात आपको पसंद नहीं आती या उनके फोरप्ले का तरीका आपको एक्साइट नहीं कर पाता तो खुलकर बात करें। और उन्हें बताएं कि आपको क्या पसंद है व उनके क्या करने से आप उत्तेजित होंगे। आत्मविश्वास का होना सेक्स क्रिया में सबसे ज्यादा लाभप्रद है।
गहरी सांसें लेने का अभ्यास करें - गहरी सांसें भी उत्तेजना देती हैं। संभोग क्रिया से पहले गहरी सांसें लें। इससे उत्तेजना अधिक हो जाएगी और चरमोत्कर्ष आनंद भी होगा।

एक दूसरे की आंखों में झांकें - चुंबन व संभोग के समय आंखें बंद न करें। एक दूसरे की आंखों में झांकें। आनंद दोगुना हो जाएगा।
पोजिशन - एक ही मुद्रा में सेक्स क्रिया आपको बोर कर रही है, तो नित्य नई मुद्राएं ट्राई करें। नए एक्सपेरीमेंट आपको और नजदीक लाएंगे।
काल्पनिक बनें - कल्पना करें कि आपको जिंदगी का बेहतरीन ऑर्गेज्म हो रहा है और आपके पार्टनर को भी। सेक्सी काल्पनिक दृश्य अधिक उत्तेजना देते हैं।